पुलिस और लुटेरों के बीच हुई फायरिंग में एक लुटेरे को लगी गोली दूसरा भी पकड़ा गया : लखनऊ

पीजीआइ कोतवाली क्षेत्र में उत्तरेठिया के पास सोमवार तड़के पुलिस की लुटेरों से मुठभेड़ हो गई। इस दौरान दोनों ओर से हुई फायरिंग हुई। इस दौरान एक लुटेरे के पैर में गोली लगी, जबकि दूसरे लुटेरे को पुलिस ने पकड़ लिया। दोनों के खिलाफ लूट के मुकदमे दर्ज हैं। इनमें से एक लुटेरे पर अलीगंज थाने से गैंगस्टर भी लग चुका है।

एसीपी विभूतिखंड स्वतंत्र कुमार सिंह के मताबिक लुटेरों के लखनऊ आने की सूचना मिली थी। इस पर रायबरेली रोड पर पुलिस की टीमें लगी हुई थी। इस दौरान ही उत्तरेठिया के पास बाइक सवार दो युवक संदिग्ध दिखे तो पुलिस ने उन्हें रोका। गाड़ी रुकते ही बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाब में पुलिस ने भी फायर किया। इस दौरान एक लुटेरे मतीन पैर में गोली लगने से घायल हो गया था। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मतीन मूल रूप से सीतापुर का रहने वाला है। उसके साथ मौजूद शाहजहांपुर निवासी देशराज उर्फ देवराज गौतम को पुलिस ने दौड़ा कर पकड़ लिया।

मतीन के खिलाफ अलीगंज व विकास नगर में लूट के मुकदमे हैं। इसके गिरोह में एक दर्जन से ज्यादा लोग है। इसमें दो लोग जेल में है। पुलिस कमिश्नर सुजीत पाण्डेय ने मुठभेड़ में शामिल इंस्पेक्टर पीजीआई केके मिश्र और इंस्पेक्टर रामसूरत सोनकर समेत पूरी टीम को पुरस्कृत करने की घोषणा की है। इस मुठभेड़ के बारे में सीतापुर और शाहजहांपुर पुलिस को भी सूचना दे दी गई है

बरामद बाइक सीतापुर से चोरी की

लुटेरों के पास बरामद बाइक सीतापुर से चोरी की गई थी। देशराज ने यह बात कुबूली है। इस पर ही पीजीआई पुलिस अब सीतापुर पुलिस से इस बारे में पूरा ब्योरा जुटा रही है। इन लोगों ने सीतापुर के कुछ बदमाशों का नाम लिया है जो दोनों लुटेरों को शरण देते थे।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com