अब युवतियां उड़ाएंगी फाईटर प्लेन

लखनऊ। अब हमारे देश में भी युवतियां किसी से कमजोर नहीं रही। वह हर वो काम कर रही है जिन्हें सिर्फ़ युवकों का समझा जाता था।वहीँ हमारी सेना भी उन्हें पूरे अवसर उपलब्ध करा रही है। इसी कड़ी में  भारतीय वायुसेना अब महिलाओं को लड़ाकू विमानों की कमान सौंपने की योजना बना रही है।वायुसेना प्रमुख अरूप राहा ने यह बात कही है।

भारतीय वायुसेना की 83वीं वषर्गांठ के जश्न के अवसर पर एयर चीफ मार्शल राहा ने कहा कि हमारे यहां महिलाएं परिवहन विमान और हेलीकॉप्टरों को पहले से ही उड़ा रही हैं। अब भारत की युवा महिलाओं की महत्वाकांक्षाओं को पूरा करने के लिए हम उन्हें लड़ाकू विमान ईकाई में भी नियुक्त करने की योजना बना रहे हैं। देश की तीनों सेवाओं में से भारतीय वायुसेना पहली सेवा है जिसमें महिलाओं को लड़ाकू शाखा में शामिल करने की योजना बनाई जा रही है। इससे पहले ये सेवाएं महिलाओं को लड़ाकू भूमिका में लेने के विचार से सहमत नहीं थी।

फिलहाल भारतीय वायुसेना सात क्षेत्रों में महिलाओं को तैनात करती है। ये प्रशासन, साजोसामान, मौसम विभाग, नेविगेशन, शिक्षा, एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग-मैकेनिकल और इलेक्ट्रिकल और अकाउंट्स क्षेत्र है । एयरफोर्स में इस समय लगभग 1500 महिलाएं तैनात हैं। इनमें से 94 पायलट हैं और 14 नेविगेटर हैं। यह कदम वैश्विक चलन के अनुरूप है और यह भारतीय वायुसेना के समक्ष चल रही लड़ाकू विमान शाखा में अधिकारियों की कमी की समस्या से उबरने में भी मदद करेगा।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com