विमान गिराए जाने पर अमेरिका-रूस में ठनी, ओबामा का तुर्की को समर्थन

नयी दिल्ली। रूस के तुर्की द्वारा जंगी विमान को गिराए जाने को लेकर अमेरिका व रूस में थान गई है। राष्ट्रपति बराक ओबामा ने तुर्की के अपनी संप्रभुता की रक्षा करने के अधिकार के लिए अमेरिका और नाटो के समर्थन का वादा किया है।

व्हाइट हाउस ने कहा है कि ओबामा ने तुर्की के अपने समकक्ष रिसेप तैयीप एरदोगन के साथ टेलीफोन पर बातचीत के दौरान यह समर्थन व्यक्त किया।

इसमें बताया गया है कि दोनों नेताओं ने स्थिति को लेकर तनाव कम करने की महत्ता और फिर इस तरह की घटना की पुनरावृत्ति नहीं होना सुनिश्चित करने के लिए उपाय करने और आईएसआईएस को कमजोर कर उसका सफाया करने के लिए अपनी साक्षी प्रतिबद्धता दोहराई।

इससे पहले दिन में, ओबामा और फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने तुर्की और रूस के बीच तनाव को कम करने का आहवान किया और दोनों से बातचीत करने की अपील की।

विदित रहे, रूस ने अपने लड़ाकू विमान को गिराए जाने के बाद सीरिया के तुर्क बाहुल्य इलाकों को निशाना बनाना शुरू कर दिया है। अमेरिका के एक अधिकारी ने नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर बताया कि रूस आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट के लड़ाकों के बजाय सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल-असद के विरोधियों को निशाना बना रहा है।

तुर्की ने रूस के एक युद्धक विमान को अपनी वायुसीमा के कथित उल्लंघन के कारण गिरा दिया था, जिसमें रूस के दो पायलटों की मौत हो गई थी। रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमिर पुतिन ने इस घटना पर रोष जताते हुए उचित जवाब देने की बात कही थी।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com