‘तमाशा’ आत्मकथा नहीं है : इम्तियाज अली

मुंबई। निर्देशक इम्तियाज अली ने बताया कि उनकी आगामी फिल्म ‘तमाशा’ में उनकी जिंदगी के कुछ पल हो सकते हैं लेकिन, यह कोई आत्मकथा नहीं है।

फिल्म की कहानी के बारे में अली ने कहा, “फिल्म ‘तमाशा’ ऐसे प्यार की कहानी है जो सामान्य लोगों के लिए असाधारण है, जिससे वह कलाकार और आम आदमी बनते हैं।

यह इस तरह की कहानी है जिसमें आप समझेंगे कि जिंदगी में महिलाएं क्यों जरूरी हैं यह ऐसी यात्रा है जो आपको पहचान दिलाएगी।”

अली अपनी पत्नी से कुछ साल पहले अलग हुए, उनका मानना है कि व्यक्तिगत जीवन और विचार आपको कहानी सुझाते हैं, लेकिन यह जरूरी नहीं है कि आप अपनी निजी जिंदगी पर आधारित फिल्मों पर कहानी गढ़े।

उन्होंने बताया, “फिल्म ‘तमाशा’ में मेरी जिंदगी के कुछ पल हैं जो आप देखेंगे, लेकिन यह आत्मकथा नहीं है।”

अली ने कहा, “मुझे ‘तमाशा’ शीर्षक पहली बार में पसंद आया। ‘तमाशा’ का अर्थ दृश्य, जिसे आप देखेगे और आनंद लेंगे।”

फिल्म ‘जब वी मेट’ के निर्देशक ने इस फिल्म में अपने अंग्रेजी शीर्षक की प्रवृत्ति तोड़ी है, इससे पहले उन्होंने अपनी फिल्मों को ‘रॉकस्टार’ और ‘हाईवे’ जैसे नाम दिए थे।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com