पेरिस हमला मानवाधिकारों का घोर उल्लंघन : चीनी अखबार

बीजिंग। चीन के एक समाचार पत्र में प्रकाशित टिप्पणी में पेरिस हमलों की निंदा की है और कहा है कि नागरिकों पर आतंकवादी हमले मौलिक मानवाधिकारों और सभ्यता का घोर उल्लंघन हैं।

खबरों  के मुताबिक, आलेख में कहा गया है कि चरमवाद और आतंकवाद दुनिया भर में फैल रहे हैं और आतंकवादी हमलों के परिणामस्वरूप बड़े पैमाने पर नागरिक मारे जा रहे हैं। उल्लेखनीय है कि पेरिस में शुक्रवार रात छह स्थानों पर हुए आतंकी हमलों में कम से कम 129 लोग मारे गए थे।

आलेख में कहा गया है कि जब तक वैश्विक विकास में असंतुलन और क्षेत्रीय राजनीतिक अस्थिरता को प्रभावी रूप से दूर नहीं किया जाता, शांति की बात मेमानी बनी रहेगी।  टिप्पणी में कहा गया है कि इस समस्या का एक मौलिक इलाज विकास पर ध्यान देना है, दुनिया के गरीब हिस्से के विकास में मदद करना है, और अस्थिर क्षेत्रों को स्वायत्तता के साथ व्यवस्था बहाली में मदद करना है।

आलेख में कहा गया है कि किसी भी तरह का चरमवाद खतरनाक है। सिर्फ शांति, विकास और प्रगति का प्रकाश ही आतंकवाद के इस अंधेरे को समाप्त कर सकता है।

टिप्पणी में अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से आग्रह किया गया है कि हर तरह के आतंकवाद से लड़ने में और दुनिया भर के लोगों के जीवन की सुरक्षा करने के लिए सुरक्षा सहयोग बढ़ाने में अपनी प्रतिबद्धता और अपना आत्मविश्वास बढ़ाना चाहिए।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com