बिहार में एनडीए की हार से घबराया सेंसेक्स 600 अंक गिरा, फिर संभाला

मुंबई। सप्ताह के पहले दिन आज सेंसेक्स में जबरदस्त गिरावट देखी गई। जिसे बिहार में धुआंधार प्रचार के बावजूद एनडीए को मिली करारी हार से जोड़ कर देखा जा रहा है। हालांकि सत्र के आखिर में शेयर बाजार में थोडा सुधार हुआ।

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के बेंचमार्क इंडेक्स सेंसेक्स 600 अंकों की गिरावट यानी 2 फीसदी कमजोरी के साथ 26,000 के मनोवैज्ञानिक स्तर नीचे खुला था लेकिन दिन बीतते बीतते कारोबार संभला और शेयर बाजार में 500 अंकों की रिकवरी दिखाई दी और यह 143 अंक नीचे बंद हुआ। सुबह के मुकाबले निफ्टी में भी रिकवरी हुई और यह 7915 के स्तर पर जाकर बंद हुआ। आज सुबह सेंसेक्स में आई गिरावट 30 सितंबर के बाद की सबसे बड़ी गिरावट है। सुबह शुरुआती कारोबार में नैशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 160 अंकों की गिरावट के साथ 7,790 तक पहुंच गया था।

सुबह से ही बीएसई के सभी इंडेक्स रेड जोन में कारोबार करते देखे गए। बीएसई मिडकैप और बीएसई स्मॉलकैप में भी गिरावट पर कारोबार होता रहा। दरअसल, बिहार में बीजेपी की जबरदस्त शिकस्त का सीधा सा अर्थ यह लगाया जा रहा है कि इससे केंद्र की भाजपा नीत सरकार पर दबाब बनेगा और आर्थिक सुधारों को लागू करने में रोड़े आएंगे। यही कारण है कि आज यानी सोमवार को शेयर बाजारों में बिकवाली देखी गई।

वहीं, कारोबारी सप्ताह के पहले दिन रुपए में भी कमजोरी के साथ ट्रेडिंग की शुरुआत हुई। रुपया 72 पैसे कमजोरी यानी 1 फीसदी गिरावट के साथ प्रति डॉलर 66.47 पर खुला। शुक्रवार को रुपया फ्लैट नोट पर यानी 65.75 पर बंद हुआ था।मिल रही जानकारी के मुताबिक़,  रुपए में यह कमजोरी बैंकों और आयातकों की ओर से अमेरिकी मुद्रा की मजबूत मांग के मद्देनजर आई। कारोबारियों ने कहा कि प्रमुख वैश्विक मुद्राओं के मुकाबले डॉलर में मजबूती के कारण रुपए पर दबाव पड़ा।

हालाकि जानकार शेयर बाजारों पर बिहार में बीजेपी की शिकस्त का सीधा असर होने की संभावना पहले ही लगा चुके थे लेकिन साथ ही ज्यादातर विश्लेषक मानते हैं कि सोमवार को भले ही तेज गिरावट का दौर चले लेकिन शेयर बाजार कुछ समय बाद संभल जाएगा।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com