तेल के खेल से फीकी पड़ सकती है दिवाली

नई दिल्ली।  खाद्य पदार्थों में जबरदस्त बढ़ोतरी के चलते सरसों के तेल पर इसका असर पड़ा है। गौरतब है कि पिछले कई दिनों से महंगाई के लिए खराब मौसम का जिम्मेदार बताया जा रहा है । हाल ही में सरसों के तेल की कीमतों में 30 फीसदी तक की बढ़ोतरी देखने को मिली है।इसका असर दीपावली पर पड़ सकता ।

दाल की तरह ही  अब सरसों के तेल के दाम में दिल्ली में पिछले एक साल में 30 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है, वहीँ दूसरी ओर कोलकाता में इसके दाम में 27 रुपए प्रति किलो का इजाफा बताया जा रहा है। दिल्ली में पिछले महीने तक 115 रुपये लीटर की दर से बिकने वाला सरसो तेल अब 140 रुपये प्रति लीटर हो गया है,

जबकि लखनऊ के रिटेल मार्केट में 100 रुपये का तेल 130 रुपये लीटर हो गया। भोपाल में सत्तर रुपये का सरसो तेल 90 रुपये का मिल रहा है और कोलकाता में भी तेल 110 से 140 रुपये तक पहुंच चुका है। दिल्ली में सफल और केंद्रीय भंडार जैसे स्टोर जहां रियायती दरों पर सामान मिलता है वहां भी पिछले साल के मुकाबले 15-20 रुपये लीटर महंगा तेल मिल रहा है।

उपभोक्ता मामलों के विभाग के प्राइस मॉनिटरिंग सेल द्वारा संकलित डेटा में दिखाया गया है कि बीते एक साल में सरसों के तेल का औसतन मूल्य 10 रुपए प्रति लीटर बढ़ा है। अक्तूबर 2014 और 2015 के बीच में इसका मूल्य 90 रुपए प्रति किलो से बढ़कर 100 रुपए प्रति किलो हो गया है।

वहीं सरसों तेल के उत्पादकों का कहना है कि आने वाले महीनों में तेल के मूल्य में और वृध्दि होगी क्योंकि इस दौरान तेल की मांग अधिक बढ़ जाती है। एक बड़े मैन्युफैक्चरर्स ने बताया कि सरसों तेल के आयात की कोई गुंजाइश नहीं है। इस साल फसल नुकसान हो जाने के कारण सरसों तेल का उत्पादन कम हुआ है।’

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com