तेजाब पीड़िता ने एसपी सिटी और सीओ से बातकर कार्रवाई के लिए दिया दो दिन का समय

  तेजाब प्रकरण में कार्रवाई से हाथ खींचने पर खाकी अपनी कारगुजारी से ही घिर गई। पीड़िता डीजीपी ऑफिस पहुंची तो पुलिस हरकत में आई। गुरुवार को महिला थाने में पीड़िता से एसपी सिटी और सीओ ने करीब 25 मिनट तक बातचीत की, जिसमें पीड़िता ने तीन साल की पीड़ा बयां की। उसने पुलिस को कार्रवाई के लिए दो दिन का समय दिया है।

क्‍या था मामला

26 फरवरी को पल्लवपुरम की रहने वाली दुष्कर्म पीड़िता पर एसएसपी आवास के पास तेजाब फेंक दिया था। उस समय पीड़िता स्कूटी से सिविल लाइन थाने जा रही थी। पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने दरोगा नरेंद्र कुमार की पत्‍नी अनीता उर्फ नीतू और दो अज्ञात युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। अभी तक आरोपितों की गिरफ्तारी नहीं हुई। एसएसपी ने दारोगा नरेंद्र का डीओ लेटर तो लिखा है, जिस पर बुलंदशहर में दारोगा का स्थानांतरण कर दिया। उसके बाद भी पीड़िता कार्रवाई से संतुष्ट नहीं है।

पीड़िता का कहना है कि दारोगा ने पत्‍नी के द्वारा तेजाब फेंका। उसके बाद हत्या भी करा सकता है। एसपी सिटी अखिलेश नारायण और सीओ संजीव देशवाल ने महिला थाने में पीड़िता से 25 मिनट तक बातचीत की। उसके बाद पीड़िता को दोबारा से मेडिकल कराने की बात कही है। पीड़िता ने बताया कि उसके भाई को भी दारोगा की पत्‍नी ने फंसाया था, जिसमें बुधवार को गुरुवार को रिहाई हो गई।

एसएसपी अजय साहनी ने कहा कि तेजाब पीड़िता के मामले में दारोगा का बुलंदशहर में स्थानांतरण करा दिया है। उसके अलावा दोनों पक्षों की तरफ से दर्ज हुए मुकदमों की विस्तार से जांच की जा रही है। साक्ष्य के आधार पर पुलिस निष्पक्ष कार्रवाई करेगी।

कार्रवाई की मांग को लेकर भटकती रही पीड़िता

मेरठ, जेएनएन। घरेलू विवाद के चलते महिला को उसकी देवरानी और देवर ने डंडा मारकर घायल कर दिया। इस मामले में पीड़िता थाने पहुंची तो पुलिस ने पीड़िता को महिला थाने भेज दिया। आरोप है कि महिला थाने से भी पीड़िता को भगा दिया। जिसके बाद महिला कार्रवाई की मांग को लेकर भटकती रही। दरअसल, भावनपुर थाना क्षेत्र के नई बस्ती अब्दुलापुर निवासी इंदु का उसकी देवरानी से विवाद चल रहा है। गुरुवार को इंदु उसकी बेटी नीतू की देवर विनोद और उसकी पत्नी ने पिटाई कर दी थी। मारपीट में इंदु घायल हो गई थी। कार्रवाई के लिए इंदु भावनपुर थाने पहुंची थी। लेकिन भावनपुर पुलिस ने इंदु को महिला थाने भेज दिया।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com