10 साल तक महिला ने फ्रीज में छुपा रखी थी पति की लाश, ऐसे खुला राज…

अमेरिका के शहर टूइले में बीते महीने में एक व्यक्ति का मृत शरीर यूटा अपार्टमेंट के अंदर एक फ्रीजर में खोजा गया था, माना जाता है कि वह एक दशक से मृत था और अधिकारियों के अनुसार उसकी पत्नी ने उसे नहीं मारा था.

अधिकारी 22 नवंबर को कल्याण कारी योजना की जांच कर रहे थे, तब उन्होंने अपार्टमेंट के अंदर 75 वर्षीय जीन सोरेन-मैथर्स को प्राकृतिक कारणों से मृत पाया. यह घटना साल्ट लेक सिटी से लगभग 35 मील दक्षिण-पश्चिम में नोवेल शहर में हई है. जब पुलिस ने अपार्टमेंट की और तलाशी ली, तब उन्हें फ्रीज में से एक और लाश मिली. पुलिस ने अपार्टमेंट के एक फ्रीजर से 69 वर्षीय पॉल एडवर्ड्स मैथर्स के शरीर की खोज की.

जांचकर्ताओं ने शव के अलावा, पॉल मैथर्स द्वारा हस्ताक्षरित एक पत्र भी पाया जिसमें कहा गया था कि उसकी पत्नी ने उसे नहीं मारा. ‘यह 2 दिसंबर, 2008 को नोटरीकृत किया गया था,’ वेलेले पुलिस एसजीटी जेरेमी हैनसेन ने इस बारे मे स्थानीय मीडिया को बताया. उन्हंने आगे कह,’हम मानते हैं कि उन्हें एक बीमारी थी.’

पुलिस का मानना है कि 75 वर्षीय सोरोन-मैथर्स ने अपने पति को 4 फरवरी, 2009 और 8 मार्च, 2009 के बीच फ्रीजर में मृत छोड़ दिया था. मैथर्स को आखिरी बार 4 फरवरी, 2009 को वेटरंस अस्पताल में जीवित देखा गया था. वहीं पुलिस ने उस ने इस मामले में उस वयक्ति को बुलाया जिसने साल 2008 में पत्र को नोटरी किया था, उसे पुलिस ने जांच के हिस्से के रूप में साक्षात्कार दिया है.

हैनसेन ने मीडिया से कह,’उसने जांचकर्ता को बताया कि उसने नोट नहीं पढ़ा है, उसने सिर्फ उस पर मुहर लगाई और उस पर हस्ताक्षर किए.’ वेसेल पुलिस ने मीडिया को बताया कि सॉरन-मैथर्स नामक इस महिला ने 10 साल की अवधि में सरकारी लाभ में कम से कम $ 177,000 प्राप्त किए. वहीं अब पुलिस के अधिकारी इस बात की जांच कर रहे हैं आखिर महिला ने 10 साल तक अपने पति की लाश फ्रीज में क्यों रखी थी.

पुलिस इस मामले की में पॉल की हत्या से इनकार नहीं कर रही है और वो इस बात की भी जांच कर रहे हैं कि क्या महिला को शव को फ्रीजर में रखने में कोई मदद मिली थी. पुलिस ने कहा कि महिला व्हीलचेयर का इस्तेमाल करती थी. हालांकि 2009 की शुरुआत में उसे किसी की जरूरत नहीं थी. हेंसन ने कहा कि मैथर्स एक बड़ा आदमी नहीं था. ऐसे में शायद महिला को किसी की जरूरत ना पड़ी हो. पुलिस इस मामले में आगे कुछ भी बताने से बच रही है.

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com