नई दिल्ली: विराट कोहली को लक्ष्य का पीछा करना पसंद है, सभी इस बात से वाकिफ हैं और रायल चैलेंजर्स बेंगलूर का यह कप्तान इंडियन प्रीमियर लीग के आगामी मैचों में भी लक्ष्य का पीछा करना चाहेगा. कोहली ने विपक्षी टीमों को स्‍पष्‍ट कर दिया है ि‍कि आने वाले मैचों में उनकी रणनीति क्‍या होगी. मौका ि‍मिला तो वे हर मुकाबले में लक्ष्‍य का पीछा कर अपनी टीम को प्‍लेऑफ में पहुंचाने की कोशिश करेंगे.

बेंगलूर ने दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ 182 रन के लक्ष्य को 19 ओवर में ही हासिल कर लिया जिसमें कोहली ने 40 गेंद में 70 रन बनाये. अब भी उनके पास क्वालिफाई करने की थोड़ी सी उम्मीद बनी हुई और कोहली इस मौके का पूरा फायदा उठाना चाहते हैं.

कोहली ने मैच के बाद कहा, ‘‘हमने गेंद से अच्छा नहीं किया, लेकिन इन खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया. हालांकि लक्ष्य का पीछा करना आदर्श था. इस चरण में पहले गेंदबाजी करना बेहतर है क्योंकि बल्लेबाज के लिए जिम्मेदारी लेना आसान है. आप जैसा चाहें, मैच का रुख वैसे कर सकते हैं. हमारे खिलाड़ियों के लिए यही अच्छा है.’’

एबी डिविलियर्स ने भी 37 गेंद में 72 रन बनाए. कोहली ने कहा, ‘‘ मुझे एबी के साथ बल्लेबाजी करना पसंद है. हमने पहले भी कई बार ऐसा किया है. यह लक्ष्य चुनौतीपूर्ण था लेकिन पारी के बीच ब्रेक में एबी ने मुझे कहा कि चिंता मत करो, हम इसे हासिल कर लेंगे. उनके साथ बल्लेबाजी करना मेर लिए सम्मान की बात है.’’

विराट की टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर ने आईपीएल-11 में अब तक 11 मैच खेले हैं. इनमें चार तीज के साथ उसके आठ प्‍वॉइंट हैं और अंक तालिका में वह सातवें स्‍थान पर है. उसके प्‍लेऑफ में पहुंचने की संभावनाएं तभी हो सकती हैं जब वह अपने बाकी तीनों मुकाबले जीते और दूसरी टीमों के नतीजे उसके पक्ष में जाएं.