गुजरात : आरक्षण और नेताओं की रिहाई की मांग को लेकर संगठनों ने बुलाया बंद

अहमदाबाद: एक बार फिर गुजरात में पटेल आरक्षण की आग फैलती नजर आ रही है। पाटीदार समाज के लोगों ने आरक्षण की मांग और पाटीदार नेता हार्दिक पटेल की रिहाई को लेकर आज गुजरात बंद बुलाया है।

आज रात 12 बजे तक के लिए मोबाइल इंटरनेट सेवा इस कारण मेहसाणा, सूरत, अहमदाबाद, राजकोट, वडोदरा और साबरकांठा में बंद कर दी गई है।

ये सभी संवेदनशील इलाके हैं और इन इलाकों में सुरक्षा के कड़े इंतज़ाम किए गए हैं। इसके अलावा दो पुलिस थाना इलाकों वराछा और कापोदरा में धारा 144 लागू है।

इससे पहले मेहसाणा में रविवार को जेल भरो आंदोलन के दौरान हिंसा भड़क गई। आंदोलन की मंजूरी न होने के बावजूद बड़ी तादाद में जमा हुए पाटीदार समाज के लोगों की पुलिस से झड़प हो गई। पुलिस ने आंदोलनकारियों को काबू करने के लिए आंसू गैस छोड़ी और हवाई फायरिंग की।

मेहसाणा में हालात की गंभीरता को देखते हुए कर्फ्यू लगा दिया। सूरत में भी हिंसा की कुछ छिटपुट घटनाएं हुई हैं। सूबे की मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल से गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने फोन कर हालात का जायज़ा लिया है।

गुजरात के मुख्य सचिव जीआर अलोरिया ने बताया कि रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) की पांच कंपनियां इन तीन शहरों में तैनात की गई है। इसके अलावा, स्टेट रिजर्व पुलिस (एसआरपी) की 20 कंपनियों को भी पूरे राज्य में तैनात किया गया है।

देर शाम वरिष्ठ अधिकारियों के साथ एक समीक्षा बैठक के बाद अलोरिया ने बताया, “नियमित पुलिस बल के अलावा, हमने अहमदाबाद और मेहसाणा में आरएएफ की दो-दो कंपनियां और एक कंपनी सूरत में तैनात की है। अगर जरूरत हुई तो स्थिति से निपटने के लिए हम केन्द्र से आरएएफ की 10 और कंपनियां आवंटित करने को कहेंगे”।

 

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com