हरियाणा सरकार का फैसला- गुड़गांव हुआ ‘गुरुग्राम’

नई दिल्ली: हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार ने गुड़गांव का नाम बदलकर गुरुग्राम और मेवात जिले का नाम बदलकर नूंह करने का फैसला किया है।

गुड़गांव एक फाइनेंशियल और इंडस्ट्रियल हब के तौर पर उबर रहा है। गुरुग्राम इस शहर का ऐतिहासिक नाम बताया जा रहा है। गुड़गांव जिले का हिस्सा मेवात पहले हुआ करता था। नूंह भी इस जिले का पुराना नाम है।

हरियाणा सरकार के प्रवक्ता ने कहा, “गुड़गांव का नाम बदलकर गुरुग्राम करने का फैसला कई मौकों पर उठी मांग के आधार पर लिया गया है कि इसका नाम गुरुग्राम किया जाना सही होगा”।

प्रवक्ता ने आगे कहा, “हरियाणा भागवत गीता की ऐतिहासिक भूमि है और गुड़गांव शिक्षा का केंद्र रहा था।  इसे गुरु द्रोणाचार्या के समय से गुड़गांव के नाम से जाना जाता है।  गुड़गांव शिक्षा का बेहतरीन केंद्र था, जहां राजाओं को शिक्षा दी जाती थी। इसलिए इस इलाके के लोग लंबे समय से मांग कर रहे थे कि गुड़गांव का नाम गुरुग्राम किया जाए”।

1970 के दशक में गुड़गांव के विकास उस समय शुरू हुआ था , जब मारुति सुजुकी ने यहां अपना प्लांट बनाया था। करीब 500 कंपनियां आज यहां खड़ी हैं।

 

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com