जल्द अपने घर वापस लौटेगी ‘गीता’ , मिलेगा अपने माँ-बाप का प्यार

नई दिल्ली। पंद्रह साल से कराची में मां-बाप की याद में तड़प रही मूक- बधिर गीता जल्द हिंदुस्तान लौटेगी। सब कुछ ठीक रहा तो कुछ ही दिनों बाद गीता को मां का आंचल का सुख और पिता का दुलार नसीब होगा। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने उसके माता-पिता की पहचान होने की ट्विटर पर खुशखबरी दी है, वहीं पाकिस्तान में कागजी कार्रवाई पूरी होने के बाद गीता को वतन वापसी की इजाजत मिल गई है ।

भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा, गीता ने अपने माता-पिता को पहचान लिया है। उसके पास तीन तस्वीरों का सेट कराची भेजा गया था, जिसमें से एक तस्वीर को गीता ने अपने माता-पिता की तस्वीर बताया है ।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्विटर पर बताया कि गीता के माता- पिता की पहचान हो गयी है और वह जल्द ही भारत लौटेगी पर उसे डीएनए टेस्ट के बाद ही उसके माता पिता को सौंपा जाएगा। हालाँकि उन्होंने उसके माता पिता के बारे में कोई जानकारी नहीं दी।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने बताया कि इस बात की पुष्टि हो गयी है कि कई वर्षों से पाकिस्तान में रहने वाली गीता भारतीय नागरिक है। अब उसे आवश्यक दस्तावेज मुहैया कराने की प्रक्रिया चल रही है। जब उसकी पहचान सामने आयी थी तो कई परिवारों ने पत्र लिख कर गीता के उनकी बेटी होने का दावा किया था।

प्रवक्ता ने बताया कि गीता की वापसी का उसके माता पिता की पहचान से कोई संबंध नहीं है। गीता भारत की बेटी है। उसे बहुत जल्दी भारत लाया जाएगा क्योंकि यह हमारा कर्तव्य है। उसकी वापसी की तारीख अभी तय होनी बाकी है।

सूत्रों के अनुसार गीता ने जिस परिवार को अपना बताया है, वह बिहार से है। गीता करीब 15 साल पहले लाहौर रेलवे स्टेशन पर पाकिस्तानी सुरक्षाकर्मियों को लावारिस हालत में मिली थी। वह बचपन में गलती से सीमा पार करके पाकिस्तान में दाखिल हो गई थी। तब उसकी उम्र सात-आठ साल थी।

फिलहाल वह कल्याणार्थ संस्था ईदी फाउंडेशन के संरक्षण में है। पाकिस्तान की मशहूर समाज सेविका बिलकिस ईदी ने उसे पाला और गीता नाम दिया। आज वह 23 साल की है। सूत्रों के अनुसार गीता को दशहरे के बाद इसी माह कराची से नयी दिल्ली लाया जाएगा।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com