Home / उत्तर प्रदेश / भदोही में स्कूल वैन हादसे को लेकर CM योगी ने किया मुआवजे का एलान

भदोही में स्कूल वैन हादसे को लेकर CM योगी ने किया मुआवजे का एलान

यूपी के भदोही में स्कूल वैन हादसे के शिकार बच्चों के परिवार वालों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को एक-एक लाख मुआवजे की घोषणा की। शाम को डीएम राजेंद्र प्रसाद ने मुआवजे की पुष्टि की। बच्चों को बेहतर उपचार कराने का आश्वासन भी दिया गया। बीते शनिवार की सुबह आठ बजे लखनो गांव में एससी कान्वेंट स्कूल की मारुति वैन में गैस सिलेंडर के रिसाव से आग लग गई थी।

वैन चालक बच्चों को उसी हालत में छोड़कर फरार हो गया था। इससे कार में बैठे 19 मासूम बच्चे गंभीर रूप से झुलस गए थे। जिला अस्पताल ज्ञानपुर में प्राथमिक उपचार के बाद सभी बच्चों को बीएचयू रेफर किया गया था। सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने झुलसे बच्चों के परिवार वालों को एक-एक लाख मुआवजा देने की घोषणा करते हुए कहा कि बच्चों के इलाज में कोताही नहीं बरती जाएगी।

जिलाधिकारी राजेंद्र प्रसाद ने बताया कि मुख्यमंत्री कार्यालय ने फोन कर मुआवजे की जानकारी दी। बीएचयू ट्रामा सेंटर में जिन 19 बच्चों का इलाज चल रहा है, उसमें पहले से पांच आईसीयू में भर्ती थे लेकिन सोमवार को दो और बच्चों को आईसीयू में भर्ती कराया गया। इसके अलावा बाकी 12 का इलाज जनरल सर्जरी वार्ड में चल रहा है। चिकित्सकों के मुताबिक जनरल वार्ड में भर्ती बच्चे 30 से 40 प्रतिशत तक झुलसे हैं। धीरे-धीरे सेहत में सुधार हो रहा है। 

पुलिस-प्रशासन की टूटी तंद्रा

भदोही के लखनो गांव में स्कूली वैन में सिलेंडर से आग लगने से हुए हादसे के बाद सोमवार को पुलिस-प्रशासन की तंद्रा टूटी। पुलिस और परिवहन विभाग के अधिकारियों ने स्कूली वाहनों के खिलाफ ताबड़तोड़ अभियान चलाया। इस दौरान सात वाहनों को सीज किया गया और 11 का चालान किया गया। भदोही नगर के रजपुरा चौराहे  पर एआरटीओ ने चेकिंग की, जबकि अपर पुलिस अधीक्षक ने ज्ञानपुर नगर और आसपास के इलाकों में स्कूल वाहनों की चेकिंग की। इससे स्कूल बस संचालकों में खलबली मची रही।  

उप संभागीय परिवहन अधिकारी सत्येंद्र कुमार यादव ने सोमवार को भदोही नगर के रजपुरा चौराहे पर आने जाने वाली स्कूल बसों की जांच की। एआरटीओ ने बताया कि मानक के विपरीत चल रहे चार वाहनों को सीज कर दिया गया है। जबकि चार का चालान किया गया। एक वैन जिसका स्कूल स्टाफ को लाने ले जाने के लिए परमिट था, उसमें बच्चों को लाया  जा रहा था।

उसके खिलाफ भी कार्रवाई की गई है। सीज किए गए चारों वाहनों को कोतवाली पुलिस की सुपुर्दगी में दे दिया गया है। एआरटीओ ने मानक के विपरीत चल रहे स्कूल वाहनों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी है। दूसरी ओर अपर पुलिस अधीक्षक डॉ. संजय कुमार की अगुवाई में जिला मुख्यालय और आसपास के इलाकों में स्कूल वाहनों की चेकिंग की गई। इसमें तीन वाहनों को सीज किया गया, जबकि सात का चालान किया गया। वाहन चेकिंग अभियान में क्षेत्राधिकारी और थानाध्यक्ष भी लगाए गए थे। 

ज्ञानपुर में स्कूली वैन की घटना के बाद हो रही कार्रवाई पर लोगों ने शिक्षा विभाग और परिवहन विभाग को आड़े हांथो लिया है। पूर्व जिला पंचायत सदस्य वंदना तिवारी ने कहा है कि यदि प्रशासनिक अधिकारी पहले से सतर्क रहे होते तो इस तरह की घटना को टाला जा सकता था।  उन्होंने हुई सोमवार को  की गई कार्रवाई पर कहा कि जिस प्रकार से  जनपद में फर्जी विद्यालयों की संख्या 50 के पार पहुंच गई है और अब उन्हें सील किया जा रहा है उससे साफ हो गया है कि इसमे शिक्षा विभाग की मिलीभगत थी।

मानक के विपरित चल रहे स्कूली वाहनों के खिलाफ कार्रवाई पर कहा कि उप संभागीय अधिकारी को भी जांच के दायरे में लाया जाना चाहिए। उन्होंने इस आशय का पत्रक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को  भेज कर इस तरह की घटनाओं की पुनरावृत्ति रोकने के लिए सख्त कार्रवाई की मांग की है। 

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com