Home / उत्तर प्रदेश / मेरठ में मूर्ति स्थापना बना विवाद का कारण, 50 दलित परिवारों ने दी धर्म परिवर्तन की धमकी

मेरठ में मूर्ति स्थापना बना विवाद का कारण, 50 दलित परिवारों ने दी धर्म परिवर्तन की धमकी

पी के मेरठ में 50 दलित परिवारों ने धर्म परिवर्तन करने की चेतावनी दी है। यहां शिव मंदिर में दलित परिवारों द्वारा काली मां की मूर्ति लगाने का विरोध किए जाने पर जमकर हंगामा हुआ। इसी बीच 50 परिवारों ने धर्म परिवर्तन की धमकी दे डाली। उन्होंने डीएम से मुलाकात कर दो दिन के भीतर मूर्ति स्थापित कराने की मांग की। 

इंचौली थाना क्षेत्र के मसूरी गांव में राजकुमार जाटव परिवार के साथ रहता है। उसके मुताबिक गांव में प्राचीन शिव मंदिर है। कुछ दिन पूर्व गांव में सर्व समाज के लोगों की सलाह पर मंदिर प्रांगण में काली माता की मूर्ति स्थापित कराने का निर्णय किया गया। बताया कि पांच दिन पूर्व सभी लोग मिलकर हस्तिनापुर गए और मूर्ति का आर्डर दे दिया। मूर्ति मंगलवार को गांव पहुंच गई।आरोप है कि गांव के ही जाटव समाज के करीब आधा दर्जन लोगों ने मूर्ति स्थापित किए जाने का विरोध करते हुए ईंट उठाकर फेंक दीं। इसको लेकर हंगामा हो गया। उस समय सभी शांत हो गए। बुधवार सुबह फिर से मंदिर में मूर्ति स्थापित करने की बात हुई तो उन लोगों ने विरोध कर दिया। इस पर राजकुमार ने 50 परिवारों के साथ धर्म परिवर्तन की चेतावनी दे डाली।

आरोप लगाया कि मंदिर की कमेटी नहीं है। फिर भी वे लोग विरोध जता रहे हैं। धर्म परिवर्तन की बात पर पुलिस से लेकर प्रशासन में हड़कंप मच गया। पीड़ित पक्ष डीएम से मिलने पहुंचा। यहां चेतावनी दी कि यदि दो दिन के भीतर मूर्ति स्थापित नहीं कराई गई तो वे मुस्लिम धर्म अपना लेंगे।

वहीं, विरोध कर रहे लोगों ने कहा कि मंदिर से बहुत लोग मन्नत पूरी होने पर मूर्ति स्थापित कराना चाहते हैं। सभी कि मूर्ति मंदिर में स्थापित नहीं की जा सकती है। इस दौरान ग्रामीणों में मनीष, बिजेंद्र, पारस, अनिल कुमार, पुष्पा, सीता, सीमा, मोंटी, सविता, सुरेश राकेश और कमलेश आदि मौजूद रहे। 

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com