असम राज्यपाल बोले, हिन्दुओं के लिए है हिन्दुस्तान, बाद में दी सफाई

गौहाटी।  हिन्दुस्तान हिन्दुओं के लिए है और नागरिकों के राष्ट्रीय रजिस्टर (एनआरसी) में एक भी बांग्लादेशी का नाम शामिल नहीं किया जाना चाहिए। यह कहना है असम के राज्यपाल पी बी आचार्य का।

एक अंग्रेजी अखबार में छपी खबर के अनुसार, राज्यपाल आचार्य ने एक किताब विमोचन कार्यक्रम के दौरान यह बात कही। उन्होंने एनआरसी सूची को अपडेट किए जाने और बांग्लादेश तथा पाकिस्तान से भागकर भारत में शरण की उम्मीद से आए अल्पसंख्यकों पर जारी किए गए केंद्र की अधिसूचना से उपजे विवाद पर पूछे गए एक सवाल के जवाब में यह बात कही।

उन्होंने कहा कि राज्य में बांग्लादेशी ‘हिन्दू शरणार्थियों’ से असम को डरने की जरूरत नहीं है। साथ ही दूसरे देशों के हिन्दुओं को भारत में शरण लेने में कुछ गलत नहीं है। उन्होंने कहा कि हिन्दुस्तान हिन्दुओं के लिए है। इसमें कोई गलत नहीं है। विभिन्न देशों के हिन्दू यहां रह सकते हैं। वे बाहरी नहीं हो सकते हैं। इसको लेकर डरने की जरूरत नहीं है। लेकिन उनको कैसे रखा जाए यह एक बड़ा सवाल है और इस बारे में सभी को सोचने की जरूरत है लेकिन साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि किसी भी बांग्लादेशी को एनआरसी सूची में शामिल नहीं किया जाना चाहिए।

बाद में बवाल बढ़ने पर आचार्य का कहना है कि उनके बयान का मतलब यह नहीं था कि हिंदुस्तान सिर्फ हिंदुओं के लिए है, बल्कि उन्होंने यह कहा था कि हिंदुस्तान ही नहीं बाहर के देशों के हिंदुओं को भी हिंदुस्तान में आकर रहने का अधिकार है और इसमें कुछ भी गलत नहीं है लेकिन उन्हें एडजस्ट करने में मुश्किल आएगी।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com