भारत की मेजबानी में नहीं खेलेगी पाक टीम : पीसीबी

नयी दिल्ली। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के अध्यक्ष शहरयार खान ने स्पष्ट किया है कि पाकिस्तानी टीम भारत की मेजबानी में दिसंबर में प्रस्तावित द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज नहीं खेलेगी। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने दिसंबर में प्रस्तावित भारत-पाक क्रिकेट सीरीज को लेकर सकारात्मक रूख अपनाते हुए कहा था कि सीरीज को लेकर अभी भी संभावनाएं बनी हुई हैं जबकि बीसीसीआई अध्यक्ष शशांक मनोहर ने इस सीरीज को यूएई के बजाय भारत की मेजबानी में कराने का प्रस्ताव दिया था।

पीसीबी अध्यक्ष ने साफ किया है कि भारत इस सीरीज को पाकिस्तान के साथ यूएई में खेले। बीसीसीआई सचिव अनुराग ठाकुर ने भी संकेत दिए थे कि भारत सरकार पाकिस्तान के साथ यूएई में सीरीज कराने की अनुमति नहीं देगा। शहरयार ने कहा कि जब भारत यूएई में आईपीएल मैच खेल सकता है तो वह इस द्विपक्षीय सीरीज को भी वहां खेल सकता है।

शहरयार ने क्रिकइंफो से कहा कि भारत में खेलने का सवाल ही नहीं है। मैं अब भी समझ नहीं पा रहा हूं कि भारत को यूएई में खेलने में दिक्क्त क्यों है। गौरतलब है कि भारत और पाकिस्तान के बीच किए गए समझौते के तहत दिसंबर में प्रस्तावित द्विपक्षीय सीरीज पाकिस्तान की मेजबानी में खेली जानी है। क्योंकि सुरक्षा कारणों से पिछले लंबे समय से पाकिस्तान अपने घरेलू मैच तटस्थ स्थानों पर कराता है तो ऐसे में इस सीरीज को यूएई में कराया जाना है।

पीसीबी अध्यक्ष ने कहा कि पाकिस्तान पहले ही अपनी दो सीरीज भारत में खेल चुका है और उन्हें यह बात समझ में नहीं आ रही है कि भारत सरकार को दुबई में अपनी टीम भेजने में दिक्कत क्यों है। उन्होंने कहा कि हम साल 2007 और फिर 2012 में अपनी सीरीज भारत में खेल चुके हैं और अब दोबारा वहां नहीं जाएंगे। यह हमारी सीरीज है और हम इसे अपने घरेलू मैदान यूएई में खेलेंगे। यूएई में भारत आईपीएल मैच भी खेलता है तो पाकिस्तान के साथ भी खेलता है।

भारत और पाकिस्तान के बीच साल 2014 में समझौता पत्र पर हस्ताक्षर किया गया था जिसके तहत पाकिस्तान को दो टेस्ट, पांच वनडे और दो ट्वेंटी 20 मैचों की सीरीज के लिए भारत की मेजबानी करनी है। हालांकि आठ जनवरी से भारत को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाना है और ऐसे में मात्र एक महीने का समय भारत-पाक सीरीज के लिए शेष ही बचा है। ऐसे में पीसीबी ने भारत को टेस्ट मैच छोड़कर वनडे और ट्वेंटी 20 सीरीज कराने का भी फॉर्मूला सुझाया है।

हालांकि इन सबके बीच शहरयार ने साफ किया है कि अंतिम निर्णय पाकिस्तान सरकार का ही होगा। भारत और पाकिस्तान के बीच मैच लेकर सरकारों और बोर्ड ही नहीं बल्कि प्रसारण अधिकारों को लेकर भी पेंच फंसा हुआ है। बीसीसीआई के मैचों के प्रसारण का अधिकार जहां स्टार इंडिया के पास है तो पीसीबी का आधिकारिक प्रसारणकर्ता टेन स्पोर्ट्स है।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com