ब्रिटेन यात्रा के दौरान मोदी ने किया 14 अरब डॉलर का समझौता

लंदन| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तीन दिवसीय ब्रिटेन दौरे के दौरान दोनों देशों के उद्यमों के बीच 14 अरब डॉलर के समझौते हुए। इसमें ब्रिटेन की ओपीजी पावर वेंचर्स कंपनी द्वारा अगले कुछ वर्षो में तमिलनाडु में 4,200 मेगावाट क्षमता की नई विद्युत सृजन इकाई में 4.4 अरब डॉलर की निवेश योजना भी शामिल है।

प्रधानमंत्री मोदी और ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन के बीच लगभग दो दर्जन निवेश समझौते हुए, जिसमें मर्लिन एंटरटेनमेंट 2017 तक नई दिल्ली में मैडम तुसाद मोम संग्रहालय खोलेगा। इसके साथ ही वोडाफोन भारत सरकार की ‘डिजिटल इंडिया’ और ‘मेक इन इंडिया’ अभियानों को मदद देने के लिए 1.4 अरब डॉलर का निवेश करेगा।

इसके अलावा, यूरोप की सबसे बड़ी सौर ऊर्जा कंपनी लाइटसोर्स का कहना है कि वह भारत में अगले पांच साल में भारतीय कंपनियों की साझेदारी में तीन गीगावाट सौर ऊर्जा के बुनियादी ढांचागत इकाई के डिजाइन, स्थापना और प्रबंधन के लिए लगभग तीन अरब डॉलर का निवेश करेगी।

दोनों देशों के प्रमुखों के बीच आधिकारिक वार्ता के बाद जारी साझा बयान के मुताबिक, “प्रधानमंत्री कैमरन और मोदी ने दोनों देशों के बीच अभिन्न एवं मधुर संबंधों का उल्लेख किया। इस दौरे के दौरान दोनों देशों के बीच 9.2 अरब पाउंड (14 अरब डॉलर) के व्यावसायिक समझौते हुए हैं।”

इस दौरान गुरुवार को हुए अन्य प्रमुख समझौते :-

– स्टैंडर्ड लाइफ, बूपा और अवीवा कंपनियां अपनी भारतीय संयुक्त उपक्रमों में कुल 36.5 करोड़ डॉलर का निवेश करेंगी।

– जीटीएल के 27,400 दूरसंचार टावरों के लिए स्वच्छ ऊर्जा प्रदान कराने हेतु ब्रिटेन की प्रौद्योगिकी कंपनी इंटेलिजेंट एनर्जी के साथ 1.8 अरब डॉलर का करार।

– भारत में अगले पांच साल में 1,000 स्टोर शुरू करने के लिए अपोलो का हॉलैंड एंड बैरेट इंटरनेशनल के साथ समझौता।

– ब्रिटेन की क्लाउडपैड मोबिलिटी रिसर्च कंपनी का भारत में स्मार्ट वॉचेज और टैबलेट बनाने के लिए निवेश।

– टीवीएस कंपनी साउथ यॉर्कशायर के बार्न्‍सले में उन्नत भंडारण इकाई की स्थापना करेगी।

– बांड और शेयर जारी करने में सहयोग के लिए लंदन स्टॉक एक्सचेंज और यस बैंक के बीच करार।

– विप्रो का ब्रिटेन में निवेश बढ़ाने पर जोर।

साझा बयान के मुताबिक, दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों ने तकनीकी सहयोग, विशेषज्ञता साझा करने और कारोबार समझौतों के जरिये भारत की महत्वाकांक्षी शहरी विकास लक्ष्यों को हासिल करने में मदद के लिए तीन भारतीय शहरों इंदौर, पुणे और अमरावती के साथ साझेदारी की है। स्वच्छ नदी प्रणाली के लिए ‘टेम्स-गंगा’ साझेदारी शुरू करने का भी ऐलान किया गया।

 

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com