तुर्की में तख्तापलट की कोशिश में 90 की मौत, 1154 से अधिक घायल

अंकारा। तुर्की की सेना के एक गुट द्वारा टैंकों और लड़ाकू विमानों की मदद से राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोग़ान का तख्ता पलटने की कोशिशों के बीच एर्दोग़ान इस्तांबुल लौट आए और स्थिति पर नियंत्रण हासिल करने का दावा किया। बता दे कि देर रात सैनिक और टैंक सड़कों पर उतर आए तथा आठ करोड़ की आबादी वाले देश के दो सबसे बड़े शहरों अंकारा और इस्तांबुल में पूरी रात धमाके होते रहे।

एर्दोग़ान ने तख्तापलट के प्रयास की निंदा करते हुए कहा कि जिस राष्ट्रपति को 52 प्रतिशत लोग सत्ता में लेकर आए, वही इन चार्ज है। जब तक हम अपना सब कुछ दाव पर लगाकर उनके खिलाफ खड़े हैं, तब तक वह कामयाब नहीं हो सकते। तख्तापलट की कोशिश के विफल होने के दावे के बीच अधिकारियों ने कहा कि तुर्की के बड़े शहरों में रातभर हुई हिंसा में 90 लोगों की मौत हो गई है और 1,154 घायल हुए हैं। वहीँ 754 लोगों को कानून की हिरासत में लिया गया है।

तुर्की में सेना के एक समूह द्वारा तख्तापलट की कोशिशों के बीच राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोगान सुरक्षित हैं। वहीं राष्ट्रपति कार्यालय ने एर्दोगान के ठिकाने का तो कोई खुलासा नहीं किया, बस इतना बताया कि वह सुरक्षित स्थान पर हैं। ख़बरों के अनुसार राष्ट्रपति एर्दोगान ने नागरिकों से सरकार के समर्थन में सड़कों पर उतरने को कहा है।

प्रधानमंत्री बिनाली यिलदीरीम ने शुक्रवार को कहा कि कुछ लोगों ने अवैध रूप से तख्तापलट करने का प्रयास किया है। लोकतंत्र में रोड़ा डालने वाले ऐसे किसी कदम की इजाजत नहीं दी जाएगी। यह सरकार तभी जाएगी जब जनता अपना निर्णय सुनाएगी।” उन्होंने कहा कि सेना द्वारा इस तरह की कार्रवाई गैर कानूनी है लेकिन यह तख्तापलट नहीं था।

मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक सेना ने इस्तांबुल में भीड़ पर गोलियां दागीं है, जिसमें कई लोगों के हताहत होने की आशंका है। तख्तापलट में इस्तेमाल किए जा रहे एक हेलीकॉप्टर को एफ-16 विमान ने मार गिराया है। रिपोर्ट के मुताबिक, अंकारा के बाहरी इलाके में स्थित विशेष पुलिस बल के मुख्यालय पर हेलीकॉप्टर से हमले में 17 पुलिस अधिकारियों मारे गए हैं।

तुर्की राष्ट्रपति ने कहा कि हमारे सैन्य बलों के कुछ समूहों द्वारा तुर्की की अखंडता और एकता को निशाना बनाया गया। उन्होंने कहा कि जिन्होंने भी इस तख्तापलट की कोशिश को अंजाम देने की कोशिश की है उन्हें परिणाम भुगतने होंगे। तुर्की के पीएम ने कहा तख्तापलट की कोशिश कर रहे 700 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

वहाँ के सरकारी प्रसारक टीआरटी के अनुसार देश भर में कर्फ्यू घोषित कर दिया गया है और हवाई अड्डों को बंद कर दिया गया है। मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार तुर्की की राजधानी अंकारा में सेना के हेलाकॉप्टरों द्वारा गोलीबारी की जा रही है। राजधानी अंकारा में धमाके की आवाज सुनी गयी है।

भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने ट्वीट कर तुर्की में रह रहे भारतीय नागरिकों को हालात स्पष्ट होने तक सार्वजनिक स्थानों पर जाने से बचने की सलाह देते हुए घरों में ही रहने की सलाह दी है। भारतीय नागरिक ज्यादा जानकारी के लिए अंकारा में +905303142203 और इस्तांबुल में +905305671095 पर संपर्क कर सकते हैं।

आपको बता दे कि इससे पहले राजधानी अंकारा में शुक्रवार को सैन्य जेल विमानों की बेहद नीची उड़ान भरते देखा गया। इस्तांबुल में बोसफोरस और फातिह सुल्तान मेहमेट, दोनों पुलों पर यातायात को रोक दिया गया है।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com