ऐसे रख सकते है अपने आप को फिट…

नई दिल्ली। फिटनेस को लेकर हर आदमी के अन्दर एक अजीब से ललक होती है, लोग यही चाहते है कि कितना जल्दी हम स्वस्थ्य हो जाये, अगर आप अपनी फिटनेस को लेकर सजग हैं तो जाहिुर है कि आपका फोकस हेल्दी खान-पान से लेकर अनुशासित वर्कआउट पर होता होगा। आपको बता दे कि केवल इतना करने से आप फिट नहीं बन पाएंगे, लंबी उम्र और स्वस्थ शरीर के लिए जरूरी है हेल्दी लाइफस्टाइल, जिसके लिए आपको अपना पूरा दिन और हर दिन इन चीज़ों का ख्याल रखना होगा।

सूरज निकलने से पहले आप उठ जाएँ : बड़े बुजुर्ग अक्सर ब्रह्म मुहूर्त में उठने की सलाह देते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि इस वक्त ऑक्सीजन की मात्रा सबसे ज्यादा होती है। सूर्योदय के बाद वायुमंडल में इसकी मात्रा कम होने लगती है। सुबह 4-5 बजे उठने पर पक्षियों के कलरव और ठंडी हवाओं से हम फ्रेश महसूस करते हैं और पूरे दिन ताज़गी बनी रहती है। इतनी जल्दी सुबह उठना मुश्किल हो सकता है।

व्यायाम भी है जरुरी : वो दिन ही क्या जिसकी शुरुआत वर्कआउट से न हो। दिनभर की भागदौड़ के लिए शरीर के कलपुर्जों को चालू करने के लिए जरूरी है कि आप ईमानदारी से वर्जिश करें। केवल वेटलॉस के लिए ही नहीं, स्वस्थ शरीर और शांत मन के लिए भी व्यायाम जरूरी है।

ब्रेकफास्ट हो बढ़िया: ‘ब्रेकफास्ट लाइक किंग’ सुबह का पहला आहार बिना किसी कंजूसी के ग्रहण करें। न तो कार्ब्स से मुंह फेरें, न ही प्रोटीन पर सारा प्यार लुटाएं। अंडे से लेकर फलों तक और अनाज से लेकर स्मूदीज तक, जो भी पसंद हो, दिल खोलकर खाइये। याद रखें, यह तमाम चीज़ें आपके शरीर के लिए ईंधन की तरह काम करेंगे। इसलिए पूरे दिन का फ्यूल बढ़ियां से भर लें। लेकिन तली-भुनी या पैकेज्ड चीज़ें न खाएं, वर्ना आप सुस्त महसूस करेंगे।

अपने ऑफिस में भी ले ब्रेक : काम में मशगूल होना अच्छी बात है, लेकिन इस चक्कर में अगर लंबे समय तक सीट से चिपके रहे, तो कमर की बैंड तो बजेगी ही, आंखें भी कमजोर होंगी और मोटापा भी बढ़ेगा। इसलिए हर घंटे पांच से दस मिनट के लिए कुर्सी छोड़कर ब्रेक लें।

लंच से लापरवाही न करें: इस बात का ख्याल रखें कि आपका पेट कूड़ेदान नहीं है। इसलिए इसमें ‘कचरा’ खाना न भरें। हो सके तो अपना टिफिन लेकर आएं। बाहर के खाने से परहेज़ करें। सूप और सब्जियों को तरजीह दें। भूलकर भी लंच स्किप न करें क्योंकि बाद में जब भूख लगेगी तो आपका दिमाग काम करना बंद कर देगा। तब अगर किसी सहकर्मी या दोस्त ने पिज्जा ऑफर किया, तो आप बिना सोचे समझे उसे ठूंस लेंगे। वक्त पर लंच करने से शरीर का मेटाबॉलिस्म दुरुस्त रहता है।

क्रेविंग्स को नज़रअंदाज न करें: अगर आपको कोई चीज़ खाने का बड़ा मन कर रहा है, तो उसे जरूर खाइये। न खाने से बेहतर है थोड़ा खाना। ऐसा इसलिए क्योंकि अगर आप अपनी क्रेविंग को नजरअंदाज़ करेंगे, तो हो सकता है आप अपना कंट्रोल खो दें और उसपर टूट पड़ें। इससे तो अच्छा है न कि आप थोड़ी सी चीटिंग करें और जो खाने के मन करे उसकी एक-दो बाइट लेकर अपनी क्रेविंग शांत कर लें।

अगर जल्दी जग रहे है तो जल्दी सो भी जाइये: आप शरीर को जितना आराम देंगे, उसके लिए कैलोरी बर्न करना उतना ही आसान होगा। साथ ही दूसरे दिन जल्दी उठने के लिए भी तो जल्दी सोना जरूरी है न। माना कि इस रूटीन को फॉलो करना आपके लिए कष्टदायक होगा। लेकिन अगर आप अपने आलस से केवल हफ्तेभर लड़ें और सुबह जल्दी उठकर वर्जिश और नाश्ता करें तो 7-8 दिन के अंदर आपका बायोलॉजिकल क्लॉक खुद ब खुद सेट हो जाएगा।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com