प्रधानमंत्री ने 30 हजार लोगों के साथ किया योग

चंडीगढ़। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दूसरे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर चंडीगढ़ में समारोह में शिरकत की। मोदी ने कड़ी सुरक्षा के बीच आज 30,000 लोगों के साथ समारोह में शामिल हुए। वहीं मोदी सरकार के 57 मंत्रियों ने अलग-अलग शहरों में योग कार्यक्रम में हिस्सा लिया। इस मौके पर मोदी ने दो योगा अवॉर्ड का भी ऐलान किया।

स्मृति ईरानी ने भोपाल में, बिजली मंत्री पीयूष गोयल ने रायपुर में, सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने नागपुर में, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कानपुर में, शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू ने दिल्ली में, उमा भारती ने जयपुर में और पीएमओ में मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने जम्मू में योग किया।

इस अवसर पर पीएम ने कहा कि आज पूरे विश्व में योग दिवस मनाया जा रहा है। देश के हर कोने में योग का कार्यक्रम हो रहा है और समाज के हर तबके का समर्थन मिला है। पीएम मोदी ने कहा कि योग मुक्ति का मार्ग तो है ही साथ में योग जीवन अनुसासन का अनुष्ठान भी है।

उन्होंने कहा कि दुनिया में योग ट्रेनर की मांग बढ़ रही है, योग विश्व में आर्थिक कारोबार की तरह बढ़ रहा है। योग हमारे पूर्वजों की विरासत और योग जीरो बजट से हेल्थ इंशोरेंस देता है। देश में डायबिटीज की संख्या बढ़ रही है, योग से डायबिटीज पर कंट्रोल संभव है।

साथ ही उन्होंने कहा कि योग को जिंदगी का हिस्सा बनाइए। जैसे अब मोबाइल फोन जिंदगी का एक अंग बन गए हैं,प्रधानमंत्री ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस एक जन आंदोलन बन गया है, जैसा दुनिया में कोई और नहीं है। संयुक्त राष्ट्र (यूएन) ने पिछले साल 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस घोषित किया था।

योग कोई धार्मिक गतिविधि नहीं है, यह मन को काबू करता है और एक स्वस्थ शरीर को बरकरार रखता है। उन्होंने कहा कि योग ने लोगों की एक अनुशासित जिंदगी जीने में मदद की है।

पंजाब और हरियाणा के राज्यपाल और केंद्रशासित प्रदेश चंडीगढ़ के प्रशासक कप्तान सिंह सोलंकी, पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने हवाईअड्डे पर उनकी अगवानी की।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com