रामवृक्ष के संरक्षणदाताओं को बाहर निकालें अखिलेश

झांसी। उमा भारती ने गुरुवार को कहा कि मथुरा के जवाहरबाग कांड में आग सुनियोजित तरीके से लगाई गई। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव इस प्रदेश के मुखिया हैं, इस नाते उन्हें रामवृक्ष के संरक्षणदाताओं को निकाल बाहर करना चाहिए।

केंद्रीय जल संसाधन एवं नदी विकास मंत्री तथा स्थानीय सांसद उमा भारती ने कहा कि उस आग में कुछ ऐसे सबूत जलाकर नष्ट कर दिए गए जिनसे पूरी समाजवादी पार्टी ही चपेट में आ सकती थी।

उमा भारती ने गुरुवार को ये बाते मीडिया से बातचीत कहीं, कई विकास योजनाओं का शुभारम्भ और दिव्यांगों को सहायक उपकरण भी वितरित किए।

भारती ने कहा कि जवाहरबाग की घटना पर मथुरा की सांसद हेमामालिनी का बचाव करते हुए कहा कि भाजपा सांसद दो साल से लगातार इस घटना की जानकारी प्रशासन को दे रही थीं।

उमा ने कहा कि उन्होंने लिखकर भी अवगत कराया था और मौखिक रूप से भी। जवाहरबाग में कब्जा किए लोग कई बार प्रशासनिक अधिकारियों की पिटाई कर चुके थे। शायद इसलिए सांसद के कहने पर भी किसी ने वहां कार्रवाई की हिम्मत नहीं जुटायी।

उमा भारती ने कहा कि इस प्रदेश में समाजवादी पार्टी के आतंक का ऐसा भय व्याप्त हो गया है कि पुलिस व प्रशासनिक अफसर भी किसी अपराधी पर कार्रवाई कराने से पहले पूरी तरह से दरियाफ्त करते हैं कि कहीं उसका ताल्लुक समाजवादी पार्टी से तो नहीं है।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com