सीएम योगी ने पेगासस प्रोजेक्ट के जरिए जासूसी विवाद केस में विपक्ष को घेरा, कही यह बात

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को पेगासस प्रोजेक्ट के जरिए कथित जासूसी विवाद केस में विपक्ष को घेरा। उन्होंने कहा कि विपक्ष तथ्यहीन और झूठे आरोप लगाकर देश के नेतृत्व को बदनाम करना चाहता है। देश की छवि को लगातार धूमिल करना विपक्ष के एजेंडे का हिस्सा बन चुका है। सीएम योगी ने कहा कि विपक्ष पूरी तरह नकारात्मक भूमिका में है और जाने अनजाने उन अंतर्राष्ट्रीय साजिशों का शिकार हो रहा है जो किसी न किसी रूप में भारत को अस्थिर और अस्त-व्यस्त करना चाहते हैं। 

सीएम योगी ने कहा कि कोरोना कालखंड के अंदर विपक्ष के इस नकारात्मक रवैये के कारण भारत की छवि पहले ही काफी आहत हुई। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारत की छवि को खराब करने और भारत को अस्थिर करने के लिए जिन मंसूबों के साथ विपक्ष काम कर रहा है वो अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है। यह कोई पहली घटना नहीं है। कुछ समय पहले 2020 में अमेरिका के राष्ट्रपति के भारत पहुंचने से पहले दिल्ली में भीषण दंगा, साजिश का हिस्सा था। यूपी सीएम ने कहा कि देश के कोविड प्रबंधन को पूरी दुनिया और डब्ल्यूएचओ ने सराहा लेकिन विपक्ष ने ऐसे दिखाया जैसे सरकार इस पर ध्यान नहीं दे रही। विपक्ष ने भारत की छवि को खराब करने का काम कर रहा है। यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण हैं। जब भी देश में कुछ महत्वपूर्ण होना होता है, विपक्ष भारत के खिलाफ माहौल बनाता है और साजिश का हिस्सा बनता है।

शोरगुल को बना लिया ठिकाना:

सीएम योगी ने विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि संसद का यह सत्र बहुत महत्वपूर्ण है। गरीब और पिछड़ों को मंत्री पद दिया गया। उनका परिचय संसद में होना था। विपक्ष को यह रास नहीं आया। संसद को शोरगुल का ठिकाना बना लिया गया है। विपक्ष लगातार देश के खिलाफ साजिश कर रहा है।सीएम ने कहा कि किसान आंदोलन के नाम पर भी ऐसा किया गया। किसानों को मत और मजहब से जोड़ा गया। उन्हें भड़काया गया, हिंसा करवाई गई। विपक्ष नकारात्मक राजनीति कर रहा है लेकिन इससे देश का भला नहीं होने वाला है।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com