भारतीय मूल का आतंकी इराक में मारा गया

मेलबर्न। भारतीय मूल सर्वाधिक वांछित आतंकवादी नील प्रकाश आईएस में लोगों की भर्ती करने वाला,  अमेरिकी सैन्य हवाई हमलों में मारा गया। अटॉर्नी जनरल जॉर्ज ब्रांडिस ने अमेरिका से मिली जानकारियों का हवाला देते हुए बताया कि वॉशिंगटन ने कैनबरा को सूचित किया कि प्रकाश 29 अप्रैल को इराक के मोसुल में मारा गया।

सीनेटर ने कल कहा कि नील प्रकाश पश्चिम एशिया में आस्ट्रेलिया की दृष्टि से सबसे अधिक वांछित आतंकवादी था। वह एक ऐसा आतंकवादी था जो आस्ट्रेलिया में घरेलू आतंकवादी हमलों को सक्रिय रूप से भड़का रहा था। ब्रांडिस ने कहा कि आस्ट्रेलियाई अधिकारियों ने यह पता लगाने में अमेरिकी सहयोगियों को मदद की कि प्रकाश मोसुल में कहां है।

ब्रांडिस ने कहा कि प्रकाश ‘सबसे खतरनाक आस्ट्रेलियाई’’ था और मेलबर्न एवं सिडनी में भी उसका नेटवर्क था। ‘वह आतंकवादियों की भर्ती में अत्यधिक सक्रियता के साथ शामिल था।’ प्रधानमंत्री मैल्कम टर्नबुल ने प्रकाश की मौत को ‘‘बहुत बहुत सकारात्मक’’ घटना करार दिया।

टर्नबुल ने कहा, ‘नील प्रकाश की मौत दाएश और आतंकवाद के खिलाफ युद्ध में एक बहुत, बहुत सकारात्मक घटना है।’’ इससे पहले जनवरी में मीडिया रिपोटरें में आईएस के एक आतंकवादी के हवाले से बताया गया था कि अबु खालिद अल कम्बोदी के नाम से भी जाना जाने वाला प्रकाश सीरिया में मारा गया।

आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में युद्ध, संघर्षों और शांतिरक्षा अभियानों में सेवाएं देने वालों एवं अपनी जान गंवाने वालों की याद में एंजैक दिवस मनाया जाता है। बताया जा रहा है कि अमेरिकी अधिकारियों ने यह भी सूचना दी कि पिछले वर्ष अक्तूबर में पुलिस अकाउंटेट कुर्तिस चेंग की गोली मारकर हत्या करने वाले पश्चिमी सिडनी के 15 वर्षीय फरहाद जबर की बहन एवं आस्ट्रेलिया महिला शादी जबर भी सीरिया में एक अन्य हवाई हमले में मारी गई।

एएपी संवाद समिति ने बताया कि प्रकाश उत्तरी इराक में आईएस के गढ़ में मारा गया जबकि शादी जबर अपने पति अबु साद अल सुदानी के साथ सीरियाई शहर अल बाद में एक सप्ताह पहले मारी गई।

रिपोर्टों के अनुसार आतंकवादी 2013 में सीरिया फरार हो गया था। विक्टोरिया में एंजैक दिवस पर आतंकवादी हमले की साजिश रचने के कुछ आरोपियों के साथ भी उसके संपर्क थे।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com